हरकोलुबस पुस्तक के बारे में स्पष्टीकरण

हरकोलुबस या रेड प्लेनेट, जो वी.एम. राबोलू द्वारा लिखी गई एक किताब है जो हमारे लिए सबसे आसन्न आगामी घटनाओं का अनुमान प्रदान करती है।

दुनिया भर में पाठकों में उत्पन्न हुई रुचि के कारण, हरकोलुबस या रेड प्लैनेट, पहले ही कई भाषाओं में अनुवादित हो चुकी हैं और साठ से अधिक देशों में वितरित की गई हैं।

इस छोटे से पुस्तक में, इसके लेखक ने समुद्र में विवादास्पद परमाणु परीक्षणों और उनके भयानक भावी नतीजे से लेकर ब्रह्मांड में अन्य ग्रहों में सचेत प्राणियों के अस्तित्व के बारे में बहुत ही चर्चित सवाल पर कई महत्वपूर्ण हालिया विषयों पर प्रभावशाली स्पष्टता के साथ स्पष्ट व्याख्या की है।

इसी तरह, वह सीधी और प्रकट भाषा के साथ बताते है कि गुरु ग्रह से छह गुना बड़ा एक बड़ा स्वर्गीय पदार्थ है, जो हर्कोलुबस या रेड प्लेनेट कहलाता है, जो चुपके से और खतरनाक रूप से पृथ्वी के निकट आ रहा है। लेखक अपनी पुस्तक में न केवल हमारे लिए इस तरह के दृष्टिकोण के परिणाम को बताते हैं, बल्कि जलवायु परिवर्तन की सही उत्पत्ति और समुद्र की गहराई में होने वाली बड़ी भूवैज्ञानिक गतिविधि को भी समझाते है।

उनके प्रत्यक्ष और सचेत अनुभव के आधार पर, वी.एम. राबोलू हमें अपनी पुस्तक में सिखाते है कि आगामी प्रलय से बचने के लिए मनोवैज्ञानिक दोषों को दूर करने की प्रणाली और सूक्ष्म प्रक्षेपण की तकनीक ही एकमात्र मौजूदा सूत्र है।

हरकोलुबस या रेड प्लेनेट को संवेदनशीलता और मानवता के लिए एक महान खुराक के साथ सब से ऊपर लिखा गया है। पहले से ही इसके पाठकों में से कई लोगो से के प्रशंसा और मान्यता प्राप्त कर चुका है, जो जिस वर्तमान अनिश्चितता से हमारा ग्रह वर्तमान में गुज़र रहा है उस पर प्रकाश डालता है।